Showing posts with label सोते समय अंडरवियर पहनना चाहिए या नहीं?फायदे और नुकसान. Show all posts
Showing posts with label सोते समय अंडरवियर पहनना चाहिए या नहीं?फायदे और नुकसान. Show all posts

22.7.19

सोते समय अंडरवियर पहनना चाहिए या नहीं?फायदे और नुकसान



क्या सोते समय अंडरवियर पहनना चाहिए या नहीं? यह सवाल हर महिला और पुरुष के मन में होता है। क्योकि बहुत से लोग अंडरवियर उतार कर सोने में हिचकिचाते है पर क्या ऐसा करना सही है। क्या सोते समय अंडरगारमेंट्स पहनना चाहिए? हमारे शरीर के नाजुक अंगो को भी सांस लेने की जरुरत होती है और यदि हम रात में टाइट कपड़े या अंडरवियर पहन कर सोते है तो हमारे यह अंग खुलकर सांस नहीं ले पाते है आईये आज इस लेख में जानते है की रात को सोते समय अंडरवियर पहनना सही है या नहीं और इसके क्या फायदे और नुकसान हो सकते है।
कई डॉक्टरों का मानना है की किसी भी महिला या पुरुष को रात में सोते समय अंडरवियर पहनना है या नहीं यह उस व्यक्ति को अपनी सुविधा और सहजता के हिसाब से निर्णय लेना चाहिए। हर महिला और पुरुष अलग अलग कारणों की वजह से अंडरवियर पहनने या ना पहनने का चुनाव करते है, लेकिन क्या ऐसा करना सही होता है क्योकि अगर हम रात में भी अपने निजी अंगों को आराम नहीं देंगे तो उस वजह से कई तरह की स्वास्थ्य समस्या हो सकती है। दिनभर एक ही अंडरवियर पहने रहने से उसमें बदबू गीलापन और बैक्टीरिया पनप सकते है, जिसकी वजह से कई तरह के संक्रमण हो सकते है और महिलाओं और पुरुषों को योनी और पेनिस में दर्द, जलन और खुजली महसूस हो सकती है।
कई विशेषज्ञों का मानना है की रात को बिना अंडरवियर पहनकर कर सोने के फायदे होते है परन्तु कुछ का मानना है की रात को बिना अंडरवियर के सोने के नुकसान भी होते है। आईये आज जानते है बिना अंडरवियर पहने सोने के क्या फायदे और नुकसान हो सकते है।
कई डॉक्टरों का मानना है की रात को बिना अंडरवियर पहने सोने के बहुत सारे फायदे होते है-


बचाए इन्फेक्शन से

जब हम रात को बिना अंडरवियर पहने सोते है तो हमारे निजी अंगो को आराम मिलता है और महिलाओं की वेजाइना ड्राई हो जाती है जिससे बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने का खतरा नहीं होता है। हम सभी लोग दिनभर टाइट अंडरवियर पहने रहते है जिसकी वजह से हमारे अंगो को खुल कर सांस लेने का मौका नहीं मिलता है जिससे हमारे निजी अंगो से निकलने वाला डिस्चार्ज दिनभर हमारे अंडरवियर द्वारा ही सोख लिया जाता है जिससे रात होते तक हमें जलन या खुजली महसूस होने लगती है, इसलिए ऐसा माना जाता है की रात को सोते समय अपने अंगो को आराम देना चाहिए।
परन्तु अगर आपको इसकी आदत नहीं है और आपको असहज महसूस होता है तो आप अंडरवियर उतारकर ना सोये परन्तु उसकी जगह आप ढीला ढाला पजामा और शॉर्ट्स पहने जिससे आपके अंगो को आराम मिल सके और वह खुलकर सांस भी लें सके। ऐसा करने से आपके वेजाइना और पेनिस में नमी ख़त्म होगी और बैक्टीरियल या फंगल इन्फेक्शन और बाकि दूसरे संक्रमणों से भी बचा जा सकता है।
स्लीपिंग क्वालिटी बढ़ती है
कुछ अध्ययनों में पाया गया है की रात को अंडरवियर या अन्य टाइट कपड़े पहनकर सोने से हम रातभर बेचैन होते रहते हैं। ऐसा शायद इसलिए क्योकि जब हम सो रहे होते है तब शायद हमारे कपड़े हमारे शरीर के तापमान के परिवर्तन के साथ समायोजित नहीं कर पाते हैं। इसलिए अंडरवियर के बिना सोने से हमारे सोने का समय अधिक बढ़ जाता है और अच्छा हो जाता है।
युरेटर में संक्रमण नहीं होता है
महिलाओं के युरेटर यानि की मूत्रवाहिनी में सबसे ज्यादा संक्रमण जननांग अंग में बैक्टीरिया पनपने के कारण होता है। यह संक्रमण महिलाओं के युरेटर में प्रवेश करके गर्भाशय को पीड़ित कर देता है जिससे कई तरह की गंभीर बीमारियां उत्पन्न होती है, परन्तु अगर रात में बिना अंडरवियर पहने सोया जाये तो हवा का बहाव तेज होता है जिससे युरेटर ड्राई हो जाता है और संक्रमण का खतरा नहीं रहता है।


पुरुषों में बढ़ाये स्पर्म काउंट

ऐसा माना जाता है पुरुष अगर रात को अंडरवियर पहनकर सोते है तो उनके टेस्टिकल (testicles) को आराम नहीं मिल पता है और उसमें से हीट बाहर नहीं निकल पाती है जिसकी वजह से पुरुषों के स्पर्म काउंट पर असर पड़ता है। इसलिए पुरुषों को सलाह दी जाती है की वो रात को बिना अंडरवियर पहने सोये ऐसा करने से उनके टेस्टिकल से हीट आराम से बाहर निकल पाती है जिससे उनके स्पर्म काउंट में वृद्धि होती है।
हालांकि पहले यह माना जाता था कि एक तंग अंडरवियर एक आदमी की प्रजनन क्षमता को कम कर सकता है लेकिन हाल के शोध से पता चला है कि आदमी को अंडरवियर के साथ बिस्तर पर जाने पर भी इसका कोई अधिक नुकसान नहीं होता है। इसलिए, पुरुष यह चुन सकते हैं कि वे क्या पसंद करते हैं लेकिन यदि वह रत को सोते समय अंडरवियर नहीं पहनते हैं तो उन्हें इससे जरूर फायदा होगा।
निजी अंगो में खुजली और जलन नहीं होती है
अंडरवियर पहनकर सोने से वेजाइना और पेनिस में हमेशा गीलापन सा रहता है जिसकी वजह से हमें खुजली और जलन महसूस होती है और हमे उसे खुजाकर खरोंच देते है जिससे घाव होने का डर रहता है और संक्रमण का भी खतरा रहता है इसलिए जब भी रात में सोने जाये, अपनी अंडरवियर उतार कर सोये जिससे आपके निजी अंगों को सूखने का मौका मिलेगा और किसी प्रकार का संक्रमण नहीं होगा।
बिना अंडरवियर के सोने के नुकसान
कई डॉक्टरों ने शोध द्वारा यह बताया है की जो लोग रात को अंडरवियर पहन कर नहीं सोते है उनको इन्फेक्शन होने का और बाकि कपड़ों से निजी अंगो के घिसने का और चोटिल होने का डर बना रहता है। विशेषज्ञों का यह कहना है की अगर आपको ऐसा लगता है की आप अंडरवियर के बिना असहज महसूस करेंगे तो आप बिलकुल निश्चिंत होकर अंडरवियर पहनकर सो सकते है क्योकि अंडरवियर ना पहने से ही बैक्टीरिया और यीस्ट इन्फेक्शन होने का डर बना रहता है क्योकि महिलाओं की वुल्वा बहुत ही नाजुक और संवेदनशील होती है जिसपर किसी तरह का घाव या चोट लगने से इसमें संक्रमण का खतरा हो सकता है और उसी तरह पुरुषों के पेनिस में भी संक्रमण हो सकता है।
शोधकर्ताओं ने शोध में यह भी पाया की जो महिलाएं या पुरुष अंडरवियर पहनकर सोते है उनके मुकाबले बिना अंडरवियर पहन कर सोने वाले लोगों को अन्य वस्तुओं से निजी अंगो के रगड़ने और चोटिल हो जाने के मामलें ज्यादा देखे गए है। क्योकि अगर व्यक्ति अंडरवियर नहीं पहनता है तो उसे असहज महसूस होने के साथ साथ गंभीर संक्रमण और घाव की संभावना ज्यादा रहती है।


यदि आप पैन्टी-लेस नहीं सोना चाहतीं है? तो आप यह कर सकती हैं

यदि आप बिना अंडरवियर के बिस्तर पर जाने के विचार की तरफ नहीं हैं, तो आप यह कोशिश कर सकती हैं। पैंटी को छोड़ें और कुछ बड़े आकार के बॉक्सर पहनें जो आपके गुप्त भागों को हवा के प्रवाह की अनुमति देता है। आप कॉटन पैंटी भी पहन सकती हैं जो 100 प्रतिशत कपास से बनी होती हैं और आपकी योनी के हिस्से को ताजी हवा देती हैं।
अपनी अंडरवियर को साफ पानी से धोएं और अगर आपके किसी दोस्त या रिश्तेदार को किसी तरह का संक्रमण या बीमारी हो तो उनके कपड़ों के साथ अपनी अंडरवियर को ना रखे। और अपनी अंडरवियर को धोने के लिए हमेशा हाइपोएलर्जेनिक (hypoallergenic) सोप का ही इस्तेमाल करें। और कोशिश करें की साल में एक बार अपनी अंडरवियर को बदल कर नई अंडरवियर लायें।
अपनी अंडरवियर रोज बदलें
वैसे तो बहुत से डॉक्टरों का मानना है की अगर आपको ज्यादा पसीना या किसी तरह का डिस्चार्ज नहीं होता है तो आप दो दिन में एक बार अंडरवियर चेंज कर सकते है इससे आपको कोई परेशानी नहीं होगी पर अगर आपको बहुत अधिक पसीना आता है या डिस्चार्ज निकलता है तो आपको संक्रमण से बचने के लिए रोज अपनी अंडरवियर बदलना चाहिए।
हमेशा कॉटन अंडरवियर का ही इस्तेमाल करें
अगर आप रात को अंडरवियर पहनकर सोना चाहते है तो कोशिश करें की आप हमेशा कॉटन की अंडरवियर ही पहने यह गीलेपन को आसानी से सोख लेता है जिससे खुजली या जलन की समस्या नहीं होती है।रात को अगर चैन की नींद लेते हुए शरीर के सभी अंगों की सुरक्षा का भी ध्यान रख लिया जाए तो नींद का उद्देश्य पूरा हो जाए। ऐसे में अगर आप भी कभी इस सवाल से दो चार हुए हैं कि क्या सोते समय अंडरगारमेंट्स पहनना चाहिए?
यह सवाल अजीब लग सकता है, लेकिन यह आपके स्वास्थ्य से जुड़ा है। इसका जवाब जानना ज़रूरी है। आप यह समझ लीजिए कि सोते हुए अंडरगारमेंट्स पहनना अपने स्वास्थ्य से खिलवाड़ करना है।
आखिर क्यों अक्सर ही इस बात की सलाह दी जाती है कि सोते हुए अंडरगारमेंट्स क्यों न पहने जाएं? जानिए ऐसे स्वास्थ्य से जुड़े कारण जो अंडरगारमेंट्स न पहनने की वकालत करते हैं।
चाहे आप आलस्य में या आदत के चलते, अंडरवियर पहनकर ही सो जाते हैं तो आप खुद को एक खतरे में डाल रहे हैं। हममें से अधिकतर लोग इस आदत से बंधे हुए हैं, परंतु विशेषज्ञों की मानें तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। यह आदत महिलाओं और पुरुषों दोनों को हानि पहुंचा सकती है। जिसके चलते खुजली, त्वचा इंफेक्शन और कभी कभी बड़ी समस्या खड़ी हो जाती है। 
 नमी से इंफेक्शन का खतरा
आपने भी इस बात पर ध्यान दिया होगा कि आपके जेनिटल्स (प्रजनन हिस्से) पूरे समय बंद रहते हैं। दिन और रात ये कपड़ों से ढंके रहते हैं। सिर्फ नहाने के वक्त आप इनकी सफाई करते हैं। ऐसे में कई बार जरूरी क्रियाओं को करते वक्त पानी लगने से यहां नमी रह जाती है। आपके हमेशा कपड़े पहने रहने के कारण इन हिस्सों को सूखने का मौका नहीं मिलता, जिसके कारण इंफेक्शन होने की संभावन बहुत अधिक हो जाती है। रात को अगर आप अंडरगारमेंट्स न पहनें तो आपके इस हिस्से को सूखा और साफ रहने का मौका मिल जाता है।
पसीने से बैक्टेरिया पनपने का खतरा
अक्सर ही मौसम गर्म रहने पर आपके शरीर से हर जगह पसीना निकलता है। शरीर के अन्य हिस्सों को जहां प्राकृतिकतौर पर सूखने का मौका खुले रहने के कारण मिलता है, आपके शरीर का यह खास हिस्सा बैक्टेरिया का घर बना रहता है। ऐसे में बैक्टेरिया से होने वाले इंफेक्शन का भी खतरा बना ही रहता है। रात में अंडरगारमेंट्स न पहनने पर इस समस्या से बचा जा सकता है।
पुरूषों को होने वाला खतरा
इंस्टीट्यूट फॉर मेंस हेल्थ (जर्सी यूरोलॉजी ग्रुप) यूएस की एक रिपोर्ट के अनुसार पुरूषों का रात में अंडरगारमेंट्स में सोना उनके प्रजनन क्षमता को प्रभावित कर सकता है। उनके प्रजनन अंग रात के समय अधिक गर्म होकर स्पर्म क्षय और स्पर्म की गुणवत्ता में गिरावट का शिकार हो सकते हैं।
पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज 

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि