Showing posts with label पेट की बीमरियां. Show all posts
Showing posts with label पेट की बीमरियां. Show all posts

2.8.19

धनिये की पत्तियों के स्वास्थ्य लाभ


भारतीय भोजन में धनिया पत्ती का इस्तेमाल मुख्यरूप से खाने को सजाने के लिए किया जाता है. कुछ इसका इस्तेमाल किसी दूसरी सब्जी के साथ मिलाकर सब्जी बनाने में भी करते हैं
हरे धन‍िये की पत्तियां और बीज दोनों ही खाने का स्‍वाद बढ़ा देते हैं. खाने में भले ही मिर्च-मसाला न हो लेकिन अगर धनिया पत्ती से गार्निश‍िंग की जाए तो उसकी खूबसूरती और स्‍वाद में चार चांद लग जाते हैं. लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि धनिया सिर्फ खाने की खूबसूरती और स्‍वाद ही नहीं बढ़ाता बल्‍कि इसका पानी आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद गुणकारी है. धन‍िया के पानी में पोटैश‍ियम, कैल्‍श्यिम, विटामिन सी और मैग्‍नीजियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है और ये सभी तत्‍व बीमारियों को कोसों दूर रखते हैं. धनिये का पानी पीने के ढेरों फायदे हैं जिनमें से कुछ के बारे में हम आपको यहां पर जानकारी दे रहे हैं


मुहांसों का रामबाण इलाज

धनिया त्वचा के लिए भी फायदेमंद है. धनिए के जूस में हल्दी पाउडर मिलाकर चेहरे पर लगाएं और कुछ देर बाद धो लें. दिन में दो बार इस लेप का इस्तेमाल करने से बहुत जल्दी मुहांसों और दाग-धब्बों से छुटकारा मिलेगा और चेहरे की सुंदरता भी बढ़ेगी. घमौरियां होने पर धनिया के पानी से नहाना चाहिए.
जलन से राहत
अगर आपको पेशाब में जलन होती है तो धनिया के पत्तों का पानी पीने से आराम म‍िलेगा. धनिया के बीजों को भिगोकर पीसकर उसका पानी तैयार कर लें. इस पानी को पीने से शरीर के दाह खासकर पैरों की जलन में फायदा होता है.
पेट की बीमरियां
अगर आपको पेट से संबंधित कोई समस्या है तो दो कप पानी में धनिये के बीज, जीरा, चाय पत्ती और शक्कर डालकर अच्छे से मिला ले. इस पानी को पीने से एसिडिटी में आराम मिलता है. पेट में दर्द होने पर आधा गिलास पानी में दो चम्मच धनिया के बीज डालकर पीने से पेट दर्द से राहत मिलती है.

हिचकी दूर करने में सहायक
हिचकी आने पर धनिया के बीज या दाने हमारे लिए काफी फायदेमंद होते है अगर आपको हिचकी बार-2 आ रही है तो उस स्थिति में आप धनिये के कुछ दानो को मुहं में रख कर उसे चूसे जिससे की आपकी हिचकी जल्द ही बंद हो जाती है |


आंखों के लिए फायदेमंद

धनिया के बीज आंखों के लिए भी फायदेमंद हैं. धनिया के थोड़े से बीज कूट कर पानी में उबालें. इस पानी को ठंडा करके मोटे कपड़े से छान लें और इसकी दो बूंदे आंखों में टपकाने से जलन, दर्द और पानी गिरना जैसी समस्याएं दूर होती हैं.
दूर होगी पीरियड्स की प्रॉब्‍लम
धनिया महिलाओं में पीरियड्स संबंधी समस्याओं को दूर करता है. अगर पीरियड्स साधारण से ज्यादा हो तो आधा लीटर पानी में लगभग 6 ग्राम धनिए के बीज डालकर खौलाएं. इस पानी में चीनी डालकर पीने से फायदा होगा.
बढ़ाए डाइजेशन
हरा धनिया पेट की समस्याओं को दूर कर पाचनशक्ति बढ़ाता है. धनिए के ताजे पत्तों को छाछ में मिलाकर पीने से बदहजमी, मतली, पेचिश और कोलाइटिस में आराम मिलता है.
नकसीर की दवा
हरे ताजे धनिया की लगभग 20 ग्राम पत्तियों के साथ चुटकी भर कपूर मिला कर पीस लें और रस छान लें. इस रस की दो बूंदें नाक के छेदों में दोनों तरफ टपकाने से और रस को माथे पर लगा कर हल्का-हल्का मलने से नाक से निकलने वाला खून बंद हो जाता है.


डायबिटीज से आराम

धनिए को मधुमेह नाशी यानी कि डायबिटीज को दूर भगाने वाला माना जाता है. इसका पानी पीने से खून में इंसुलिन की मात्रा नियंत्रित रहती है.
वजन कम करने में असरदार
अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो धनिये के बीज का इस्‍तेमाल करने से फायदा होगा. इसके लिए आप तीन बड़े चम्‍मच धनिये के बीज एक गिलास पानी में उबालें. जब पानी आधे से कम हो जाए तो इसे छान लीजिए. इस पानी को रोजाना दो बार पीने से वजन घटने लगेगा.
कॉलेस्ट्रोल से छुटकारा
धनिया में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो शरीर से कॉलेस्ट्रॉल कम कर उसे कंट्रोल में रखते हैं. रिसर्च के अनुसार अगर किसी को हाई कॉलेस्ट्रॉल की श‍िकायत है तो उसे धनिया के बीज उबालकर उस पानी को पीना चाहिए.


किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार