7.3.18

घबराहट दूर करने के आयुर्वेदिक उपाय-डॉ॰आलोक

                                                     


    मानसिक रोग की बीमारियां इंसान को काफी परेशान कर देती हैं। तनाव, चिंता और अवसाद इंसान को अंदर से इतना कमजोर बना देते हैं कि धीरे—धीरे उसकी सेहत पर विपरीत प्रभाव पड़ने लगता है। घबराहट यह एक गंभीर समस्या है। ये किसी भी तरह की हो सकती है जैसे लिफ्ट में थोड़ी देर खड़े होने पर, भीड़ वाली जगह पर, बंद कमरे या दरवाजा बंद होने पर घबराहट या किसी चिंता का होना आदि। यदि आपको किसी भी तरह की एैसी समस्या है तो चिंता ना करें। हमारे पास इसका बहुत ही सरल और आसान उपाय है। इसके लिए कुछ नुस्खे आपको इस्तेमाल करने हैं।
आयुर्वेदक इलाज-
बहुत जरूरी है नींबू की चाय यानि (लेमन टी)-
नींबू हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लेकिन यही नींबू हमें घबराहट की समस्या से निजात भी दिलवाता है। लेमन टी आप नियमित सुबह और शाम पीना शुरू कर दें। कुछ ​ही दिनों में घबराहट आपको महसूस नहीं होगी।
ग्रीन टी पीएं-
जब आपको एैसा लगता हो कि घबराहट हो रही है तो आप ग्रीन टी को पीएं। क्योंकि इस चाय में मौजूद गुण हमारे शरीर के रक्त संचार और रक्तचाप को ठीक रखते हैं जिसकी वजह से घबराहट दूर हो जाती है।
फायदेमंद है चाकलेट-
चाकलेट अक्सर हम सभी खाते हैं । घबराहट का उपचार करती है ये चाकलेट। नियमित एक चाकलेट आप खांए इससे आपके दिमाग में घबराहट पैदा करने वाले हार्मोन कम होने लगते हैं। जिससे आपको पूरी तरह से इस बीमारी से मुक्ति मिल जाती है।
आयुर्वेदक तेल लैवेंडर-
बहुत ही लाभदायक है लैवेंडर का तेल घबराहट को कम करने में। जी हां यदि आप इस तेल को सूंघते हो तो इससे आपको इस परेशानी से राहत मिलती है। साथ ही आपका ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित हो जाता है। आप चाहें तों लैवेंडर के टैबलेट का सेवन भी कर सकते हो। लेकिनअपने डॉक्टर से पूछने पर।
बहुत ही फायदेमंद है अखरोट व अलसी-
यदि आप अखरोट या फिर अलसी के बीजों का सेवन करते हो तो आपको कभी भी घबराहट नहीं होगी। क्योंकि इन दोनों में ओमेगा—3 फैटी एसिड होता है जो हमारे शरीर में जाकर चिंता व तनाव को खत्म करता है। आप रोज अखरोट जरूर खाएं।
जामुन का प्रभाव-
जामुन एक कारगर दवा के रूप में काम करती है घबराहट में। जी हां यदि आप इसका सेवन करते हो तो चिंता, टेंशन व मन की अशांति-
सभी दूर हो जाएगीं। और आप फिर से एक स्वस्थ जीवन जी सकोगे।
साबुत अनाज लाभकारी है-
जैसा की हमने आपको बताया था कि घबराहट एक मानसिक रोग है इसलिए इसे कम करने में हमारी डायट की अहम भूमिका रहती है। आप साबुत अनाज का सेवन करना शुरू कर दें। इससे आपका ये मानसिक रोग पूरी तरह से ठीक हो जाएगा।
इसलिए जरूरी है बादाम-
उन लोगों को कभी भी घबराहट की समस्या नहीं होती है जो बादाम का सेवन नियमित करते हैं। बादाम हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। और इस तरह की किसी भी समस्या से हमारे शरीर को बचाता है। इसलिए जरूर खाएं बादाम।
योग जरूर करें-
योग में छिपा है घबराहट का अचूक उपाय। जी हां आप रोज सुबह के समय कपालभाती और अनुलोम—विलोम करते हो तो ये समस्या आपकी जल्द ही ठीक हो जाएगी।














No comments: