Showing posts with label अजवाईन. Show all posts
Showing posts with label अजवाईन. Show all posts

24.6.16

नाक मे कीड़े पड़ने के उपचार // Home remedies for vermes nasai





 
साफ सफाई का ध्यान नहीं रखने और अधिक गंदगी रहने की  वजह से  नाक मे घाव हो जाता है, उससे खून आने लगता है,  घाव ज्यादा पुराना हो ने पर उसमे कीड़े पैदा होने लगते हैं| 
  अब नाक के कीड़े के बारे मे कुछ उपचार  बता देता हूँ-
फिटकरी का प्रयोग-
1) एक चौथाई  ग्राम फिटकरी  करीब 100 मिली  पानी मे  मिलाकर रख लें | यह फिटकरी वाले पानी  की  3-4  बूंदे रोगी  के सिर  को पीछे  की तरफ  झुकाकर दोनों नथुनो मे  दिन मे 4 बार  टपकाएँ || इससे नाक के कीड़े मर जाते हैं| 
2)  पीसी हुई हींग को गरम पानी मे मिलाकर  नाक मे डालने से  नाक का  घाव ठीक होता है और कीड़े भी मर जाते हैं|



3) नीम के पत्ते का काढ़ा बनाकर  नाक मे टपकाने से नाक के अंदर का घाव ठीक होता है  और नाक के कीड़े समाप्त होते हैं| 
4) लहसुन का रस निकालें| 3 भाग लहसुन का रस  4 भाग  पानी मे मिश्रित कर नथुनो मे टपकाएँ | कीड़े खत्म होंगे और नाक का घाव भी  ठीक हो जाएगा| 
5)  तारपीन का तेल लाएँ|  100 मिली पानी मे आधा चम्मच तारपीन का तेल मिलाकर इस पानी से नाक की धुलाई-सफाई  करें | इससे नाक के  कीड़े तिलमिलाकर  बाहर निकलेंगे  अब चिमटी से कीड़े पकड़कर बाहर निकालें| 

) बन तुलसी का रस  नथुनों मे डालने से  नाक के कीड़े मरते हैं | 

7)  खुरासानी अजवाईंन  के काढ़े से नाक के अन्दर की सफाई करना एक बढ़िया उपचार माना गया है| 
8) फरहद के पत्तों का रस नाक मे टपकाने से  नाक के तमाम कीड़े बाहर आ जाते हैं  और जख्म भी भर जाता है| 

16.5.16

शरीर की फालतू वसा और विजातीय द्रव्यों से मुक्ति पाने का उपाय

                                                                 

घटक द्रव्य-
मेथी दाना -250 ग्राम ,
अजवाइन-100 ग्राम ,
काली जीरा-50 ग्राम ।
उपरोक्त तीनो चीज़ों को साफ़ करके हल्का सा सेंक लें ,फिर तीनों को मिलाकर मिक्सर में इसका पॉवडर बना लें और कांच की किसी शीशी में भर कर रख लें । रात को सोते समय 1/2 चम्मच पॉवडर एक गिलास कुनकुने पानी के साथ नित्य लें ,इसके बाद कुछ भी खाना या पीना नहीं है ।इसे सभी उम्र के लोग ले सकते हैं
फायदा पूर्ण रूप से 80-90 दिन में हो जायेगा ।
वीर्य की मात्रा बढ़ाने और गाढ़ा करने के उपाय 

लाभ :-
*इस चूर्ण को नित्य लेने से शरीर के कोने -कोने में जमा पड़ी सभी गंदगी (कचरा )मल और पेशाब द्वारा निकल जाता है ,
*फ़ालतू चर्बी गल जाती है ,
*चमड़ी की झुर्रियां अपने आप दूर हो जाती है ,और शरीर तेजस्वी और फुर्तीला होजाता है ।
अन्य लाभ इस प्रकार हैं-
*आँखों का तेज़ बढ़ता है ,बहरापन दूर होता है ,बालों का भी विकास होता है,दांत मजबूत होते हैं ।
*भूतकाल में सेवन की गयी एलोपैथिक दवाओं के साइड -इफेक्ट्स से मुक्ति मिलती है ।
*खाना भारी मात्रा में या ज्यादा खाने के बाद भी पच जाता है (इसका मतलब ये नहीं है कि आप जानबूझ कर ज्यादा खा ले) ।

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

*स्त्रियों का शरीर शादी के बाद बेडौल नहीं होता ,शेप में रहता है ,,शादी के बाद होने वाली तकलीफें दूर होती हैं ।
चमड़ी के रंग में निखार आता है ,चमड़ी सूख जाना ,झुर्रियां पड़ना आदि चमड़ी के रोगों से शरीर मुक्त रहता है ।
*शरीर पानी ,हवा ,धूप और तापमान द्वारा होने वाले रोगों से मुक्त रहता है
*डाइबिटीज़ काबू में रहती है ,चाहें तो इसकी दवा ज़ारी रख सकते हैं।
*कफ से मुक्ति मिलती है ,नपुंसकता दूर होती है,,व्यक्ति का तेज़ इस से बढ़ता है ,जल्दी बुढ़ापा नहीं आता उम्र बढ़ जाती है |
*. गठिया जैसा ज़िद्दी रोग दूर हो जाता है ।
*शरीर की रोग प्रतिकारक शक्ति को बढ़ाता है ।
*पुरानी कब्ज़ से हमेशा के लिए मुक्ति मिल जाती है ।

*प्रोस्टेट बढ़ने से मूत्र रुकावट की अचूक  औषधि*

*रक्त -संचार शरीर में ठीक से होने लगता है ,शरीर की रक्त -नलिकाएं शुद्ध हो जाती हैं ,रक्त में सफाई और शुद्धता की वृद्धि होती है ।
*ह्रदय की कार्य क्षमता में वृद्धिहोती है ,कोलेस्ट्रोल कम होता है ,जिस से हार्ट अटैक का खतरा नहीं रहता |
*हड्डियां मजबूत होती हैं ,कार्य करने की शक्ति बढ़ती हैं ,स्मरण शक्ति में भी वृद्धि होती है ।थकान नहीं होती है 
*कोई भी व्यक्ति ,किसी भी उम्र का हो ,इस चूर्ण का सेवन कर सकताहै,मात्रा का ध्यान रखें ।
   इस लेख के माध्यम से दी गयी जानकारी आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो कृपया लाईक,comment  और शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँच सकती है और हमको भी आपके लिये और बेहतर लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है|

अन्य उपयोगी लेख-